राहुल गांधी के लोको पायलट्स से मिलने के बाद हाल ही में रेल मंत्री अश्विनी वैश्नव ने उनके दावों का जवाब दिया है। वैश्नव ने कहा कि लोको पायलट्स रेलवे के महत्वपूर्ण सदस्य हैं और विपक्षी दलों की भ्रांतियों और थिएट्रिक्स से उन्हें निराश करने का प्रयास किया जा रहा है।

वैश्नव ने बताया कि रेलवे ने लोको पायलट्स की ड्यूटी घंटे सावधानीपूर्वक मॉनिटर की जाती हैं और उन्हें यात्रा के बाद सख्ती से आराम भी प्रदान किया जाता है। उन्होंने बताया कि इस साल जून महीने में औसत ड्यूटी घंटे आठ से कम रहे हैं।

वैश्नव ने बताया कि पायलट्स अपनी यात्रा पूरी करने के बाद रनिंग रूम में आकर विशेष आराम प्राप्त कर सकते हैं, और इन रूम्स को एयर-कंडीशन किया गया है।वैश्नव ने इसके अलावा भर्ती प्रक्रिया पर ध्यान दिया और कहा कि पिछले कुछ वर्षों में बड़ी स्केल पर भर्ती कार्यक्रम पूरा किया गया है और वर्तमान में भी इस प्रक्रिया पर काम चल रहा है।

वैश्नव ने अपने बयान में कहा-“झूठी खबरों से रेल परिवार को निराश करने का प्रयास असफल होगा। हम सभी रेल परिवारी एकजुट होकर देश की सेवा में लगे हैं”।


Discover more from The Untold Media

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By Sumedha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *